बढ्त के साथ खुले शेयर बाजार के शुरुआती कारोबार में गिरावट, निफ्टी भी नुकसान में

मुंबई : भारतीय शेयर बाजार आज सकारात्मक रूख के साथ खुला लेकिन कारोबार के पहले ही घंटे में वह गिरने लगा. बंबई स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 39.97 अंक चढ़कर 31,932.20 के स्तर पर खुला, लेकिन कारोबार के पहले ही घंटे में इसमें 50 अंकों की गिरावट दर्ज की गयी. जबकि नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 9.75 अंक चढ़कर 9,984.15 के स्तर पर खुला आैर कारोबार के पहले ही घंटे में इसमें 16 अंकों की गिरावट दर्ज की जा रही है.
पिछले सप्ताह कारोबार के अंतिम दिन शुक्रवार को वैश्विक स्तर पर सकारात्मक रूख के साथ घरेलू निवेशकों की लिवाली से बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स 84 अंक की तेजी के साथ बंद हुआ था. पूरे सप्ताह बाजार में लगातार तेजी देखी गयी. इस दिन तीस शेयरों वाला सेंसेक्स कमजोर खुला और एक समय 31,551.85 अंक तक चला गया. इसका कारण निवेशकों का जीडीपी आंकड़े को लेकर सतर्क रुख अपनाना था.

वाहन कंपनियों के बेहतर बिक्री आंकड़ों तथा अगस्त महीने में विनिर्माण क्षेत्र के बेहतर प्रदर्शन के आंकड़ों से शेयर बाजारों में शुक्रवार को तेजी रही. सेंसेक्स इस दिन 162 अंक चढकर तीन सप्ताह के उच्चस्तर 31,892.23 अंक पर पहुंच गया. लगातार तीसरे दिन इसमें तेजी रही. नेशनल स्टाक एक्सचेंज का निफ्टी 10,000 अंक के करीब पहुंच गया था. नौ सप्ताह में आठवीं बार सेंसेक्स और निफ्टी में पिछले सप्ताह साप्ताहिक बढत दर्ज हुई थी. त्योहारी सीजन से पहले मारुति सुजुकी की अगुवाई में वाहन कंपनियों ने अगस्त में अच्छी बिक्री दर्ज की.

जीडीपी की वृद्धि दर चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में तीन साल के निचले स्तर 5.7 प्रतिशत पर आ गयी है. लगातार दूसरी तिमाही है जब भारत चीन से पीछे रहा है. इस तरह की चर्चा है कि भारतीय रिजर्व बैंक अक्तूबर में अगली मौद्रिक समीक्षा बैठक में ब्याज दरों में कटौती कर सकता है. इससे ब्याज दर आधारित शेयरों में लाभ रहा. सितंबर महीने के वायदा एवं विकल्प श्रृंखला की शुरुआत से निवेशकों द्वारा नये सौदे करने से भी बाजार धारणा को बल मिला. सेंसेक्स की कंपनियों में डॉ रेड्डीज के शेयरों में सबसे अधिक 9.75 प्रतिशत का लाभ रहा. नास्डैक में सूचीबद्ध वाइवस इंक के साथ निपटान करार से कंपनी के शेयर में मजबूती आयी.

Related posts

Leave a Comment