लंका फतह के बाद सौरव गांगुली ने एमएस धोनी को लेकर दिया बड़ा बयान

नई दिल्ली : श्रीलंका को भारत ने टेस्ट सीरीज में 3-0 से जीतने के बाद वनडे सीरीज में भी 5-0 से धूल चटा दी है, लेकिन ये सीरीज सिर्फ भारत के इस ऐतिहासिक जीत के लिए याद नहीं की जाएगी. श्रीलंका के खिलाफ इस वनडे सीरीज में इस शानदार जीत के लिए एक शख्स को भी याद किया जाएगा और उसका नाम है- महेंद्र सिंह धोनी. सीरीज से पहले इस तरह की बातें हो रही थीं कि एमएस धोनी और युवराज सिंह को शायद विराट कोहली की नई लुक वाली टीम में जगह शायद ना मिले, लेकिन जिस तरह से धोनी ने वनडे मैचों में प्रदर्शन किया है उसके बाद उन्होंने ना केवल सलेक्टर्स, बल्कि आलोचकों के मुंह पर भी ताले जड़ दिए हैं.

बता दें कि सेलेक्शन कमेटी के चेयरमैन एमएसके प्रसाद ने श्रीलंका दौरे के लिए धोनी को टीम में जगह तो दे दी लेकिन ये भी जता दिया कि अगर धोनी प्रदर्शन अच्छा नहीं कर पाएं तो दूसरे विकल्प की तलाश करनी होगी, लेकिन श्रीलंका में अपने बल्ले का कमाल दिखा धोनी ने प्रसाद को भी उनकी तारीफ करने पर मजबूर कर दिया है. पिछले दिनों ही प्रसाद ने धोनी की तारीफों के पुल बांधे थे और पुराने किस्से भी सुनाए थे.

बता दें कि श्रीलंका में धोनी पर बहुत दबाब था, लेकिन धोनी तो किसी और ही मिट्टी के बने ही हैं. उनका दूसरे, तीसरे और चौथे वनडे में 45*, 67* और 49* स्कोर रहा और भारत की जीत में अहम रोल भी निभाया. श्रीलंका के खिलाफ खेली गई उनकी हर पारी उनका ऐसा जवाब रही कि सारे आलोचक चारों खाने चित हो गए.

ऐसे में टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने एम एस धोनी की तारीफ करते हुए कहा है कि अगर आलोचक उन पर सवाल उठाएंगे तो वो धोनी उनके बल्ले से जवाब पाएंगे. दरअसल, टीम इंडिया के विकेटकीपर एम एस धोनी के खिलाफ आलोचक मोर्चा खोले हुए थे और लगातार उनके प्रदर्शन पर सवाल उठा रहे थे, लेकिन धोनी ने इन सवालों का जवाब अपने बल्ले से दिया है. सौरव गांगुली ने धोनी पर बयान दिया, ‘सीरीज से पहले धोनी पर सवाल उठाए जा रहे थे. धोनी जैसे खिलाड़ियों पर सवाल नहीं उठना चाहिए क्योंकि उनके जैसे खिलाड़ी दबाव में और अच्छा प्रदर्शन करते हैं जैसा कि धोनी ने श्रीलंका के खिलाफ किया है.’

सौरव गांगुली ने टाइम्स ऑफ इंडिया में अपने कॉलम में लिखा, ‘धोनी जैसे खिलाड़ी अपने आलोचकों को हमेशा गलत साबित करते हैं. धोनी का असली चैलेंज तब शुरू होगा जब वो बड़ी टीमों के खिलाफ खेलेंगे. मुझे उम्मीद है कि अच्छी टीमों के खिलाफ वो अपने प्रदर्शन का स्तर और ऊपर उठाएंगे.’

धोनी ने श्रीलंका के खिलाफ मौजूदा वनडे सीरीज में जबर्दस्त प्रदर्शन किया है. धोनी ने 3 पारियों में 161 रन बनाए हैं और वो एक भी बार आउट नहीं हुए हैं. उनका सर्वाधिक स्कोर नाबाद 67 रन रहा है. चौथे वनडे में भी धोनी 49 रन बनाकर नाबाद रहे थे. धोनी के पिछले एक साल के वनडे प्रदर्शन पर नजर डालें तो वो भी लाजवाब रहा है. धोनी ने पिछले एक साल में 23 वनडे में 739 रन बनाए हैं. उनका बल्लेबाजी औसत 67.18 रहा है. इस दौरान धोनी ने एक शतक और 5 अर्धशतक लगाए हैं.

Related posts

Leave a Comment