बुजुर्ग के सवालो के आगे हाथ जोड़े पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने

राजकोटः पूर्व प्रधानमंत्री तथा वरिष्ठ कांग्रेस नेता और जाने माने अर्थशास्त्री मनमोहन सिंह गुरुवार को राजकोट में एक प्रेस कांफ्रेंस के लिए आए थे। इसी दौरान एक बुजुर्ग घेरा तोड़कर कर उनके पास जा पहुंचा। बुजुर्ग की बातें सुन मनमोहन सिंह ने हाथ जोड़ लिए और काफी देर तक चुप खड़े रहे। मनमोहन को ऐसे खड़ा देख वहां मौजूद सभी लोग हैरान रह गए।

मनसुखभाई नाम का बुजुर्ग हाथ में एक किताब लिए अचानक एसपीजी के घेरे के बीच खड़े मनमोहन के बाद पहुंच गया। पहले एसपीजी ने सोचा कि यह कांग्रेस कार्यकर्त्ता है लेकिन जब जवानों को सारा माजरा समझ आया तो उन्होंने बुजुर्ग को वहां से हटाया। सभी में इसी बात की चर्चा थी कि आखिर बुुजुर्ग ने पूर्व पीएम को ऐसे क्या कहा कि उन्होंने हाथ जोड़ दिए।

मीडिया ने जब मनसुखभाई से बात की तो उन्होंने बताया कि मैं कांग्रेस के घोटालों की किताब लेकर मनमोहन सिंह के पास गया था और उनसे यूपीए सरकार में हुए घोटालों के बारे में सवाल किया। मनसुखभाई ने सिंह से पूछा कि आपके कार्यकाल में 20 लाख करोड़ के घोटाले हुए हैं, आपके नेता जेल में है और कई बाहर घूम रहे हैं तो ऐसे में मैं कांग्रेस को वोट क्यों दूं।
मनसुखभाई कहा कि मनमोहन ने उनके किसी सवाल का जवाब नहीं दिया और जवानों ने उन्हें वहां से हटा दिया। बताया जा रहा है कि किसी समय मनसुखभाई कांग्रेस से जु़डे हुए थे। वे कांग्रेस के कार्यकाल में हुए घोटालों से आहत थे इसलिए पूर्व पीएम से जवाब चाहते थे लेकिन उन्होंने मौन धरे रखा।

Related posts

Leave a Comment